Home Education

कोई ऐसा अमल बताएं जिससे मैं अमीर हो जाऊ

0

कोई ऐसा अमल बताएं जिससे मैं अमीर हो जाऊ

एक शख्स, ह़ज़रत मुहम्मद मुस़्तफ़ा ﷺ, के खीदमत मे आया।और अर्ज़ करने लगा,
या रसूलल्लाह ﷺ मै बहुत गरीब हूं मेरे पास माले दुनिया नहीं। मुझे कोई ऐसा अमल बताएं जिससे मैं अमीर हो जाऊं।
तो अल्लाह के महबूब ﷺने कहा तुम चावल खाया करो। अल्लाह के फज़लों करम से तुम अमीर हो जाओगे। वह चला गया ।
और थोड़ा ही टाइम गुजरा था कि एक शख्स और आया और अर्ज़ करने लगा या रसूल अल्लाह ﷺ मेरे पास बहुत दौलत है।
और मैं उसे संभाल नहीं सकता। कोई ऐसा अमल बताएं के यह दौलत मेरी इतनी हो जाए कि मैं इसे संभाल सकूं।
तो अल्लाह के प्यारे महबूब ﷺने कहा, तुम चावल खाया करो । और वह शख्स भी चला गया।
वहां पर जो दूसरे असहाब थे वो हैरत से पूछा! या रसूल अल्लाह ﷺजो शख्स गरीब था।
उसको भी आपने चावल खाने के लिए कहा।और जो शख्स अमीर था।उसको भी आपने चावल खाने के लिए कहा।
इसकी क्या वजह हैं? हमें समझ में नहीं आया।
तो मुहम्मद मुस़्तफ़ा ﷺ, ने फरमाया।
ऐ लोगो याद रखना जब भी कोई इंसान चावल निकाल कर खाना शुरू करता है।
तो अल्लाह के फज़लों करम से उस चावल में से एक चावल का दाना को अल्लाह रहमत और बरकत वाला कर देता है।
जब मुसलमान उस खाने को खा लेता है तो अल्लाह उसके रिज़्क में बरकत अता फरमाता है।
जैसा कि पिछले वाला शख्स गरीब था।और वह थोड़ा सा चावल खरीदेगा और पकाएगा और एक-एक दाना संभालकर खाएगा।
और अल्लाह के फज़लों करम से वो रहमत वाला खाना उसके पेट में चला जाएगा।
और उसके रीज्क में बरकत हो जाएगी।लेकिन वह जो अमीर शख्स था।यकीनन पकाएगा।
और आधे छोड़ देगा ,और कुछ खा लेगा,और कुछ गिरा देगा।
जैसे ही वो रहमत वाला दाना गिर जाएगा,तो इस तरह से उसके दौलत में भी कमी आ जाएगी।
लाइक कमेंट शेयर जरूर करें।