जिंदगी में क़ामयाब होना है|how to improve communication

232
0

जिंदगी में क़ामयाब होना है. how to improve communication.

किस तरह से बात करनी चाहिए जिससे सामने वाले को हमारी बात अच्छे से समझ मे आए,और उसके दिल में हमारे लिए इज़्ज़त बढ़ें.how to improve communication skills
जिंदगी में क़ामयाब होना है.
communication skills
कहने के तो यह दोनों अलग-अलग अल्फाज़ है, लेकिन यह दोनों अल्फाज़ एक साथ मिल जाए तो यह इंसान की जिंदगी पर गहरा असर रखते हैं.
यानी इंसान की क़ामयाबी का रास्ता तय करती है.
अगर आप चाहते हैं कि जिंदगी में क़ामयाब हो और अपनी मेहनत से अपने नाम का लोहा मनवाना चाहते हैं… चाहे आप किसी भी जगह पर काम करते हैं.
अगर आपके communication skills अच्छी हैं तो आप एक क़ामयाब इंसान हैं…यह जरूरी नहीं कि आप एक स्टूडेंट हो या कहीं और काम करते हैं.तभी आपके communication skills अच्छी हो.
बल्कि आपको हमेशा अपने हालात और अपने communication skills पर काम करते रहना चाहिए.
लेकिन बहुत से ऐसे लोग हैं जो अपने communication skills बढ़ाना तो चाहते हैं.
लेकिन उसको समझ नहीं आती कि इस कमी को दूर कैसे करें…तो चलिए जान लेते हैं के काम के दौरान ही अपनी छोटी छोटी communication skills को कैसे बढ़ाते हैं.
सोचना और समझना:
एक कहावत है कि अच्छा पढ़ने वाला ही अच्छा लिख सकता है.
और एक अच्छा सुनने वाला ही अच्छा बोल सकता है.
इसीलिए पहले कुछ भी बोलने से पहले सामने वाला की बात गौर से सुनें.
इंसान से बात करते हुए अपनी आंखें नीचे नहीं करें बल्कि सामने वाले की तरफ देख कर बात करें.
इसका यह मतलब बिल्कुल नहीं कि आप उसे घूरने लग जाए…और उस को यह लगे कि आप उसकी इज़्ज़त नहीं कर रहे हैं.
क्योंकि अगर कोई इंसान बात कर रहा है, और आप इधर उधर देख रहे हैं, तो वह इंसान समझ जाता है कि आप उसके बात में दिलचस्पी नहीं ले रहे हैं…और इससे आपकी शख्सियत पर बुरा असर पड़ता है.
जो बोलो उस पर यकीन रखो:
किसी भी इंसान से बात करने से पहले आपको पता होना चाहिए कि उसकाcommunication लेबल क्या है.
वह कैसी तबीयत का मालिक है.जिससे आपको पहले ही पता हो जाएगा उससे बात कैसे करनी है. और उसको कैसे डील करना है.
गुफ्तगू करते वक्त एक बात याद रखें बात करते वक्त जो आप किसी से कहते हैं उस पर पूरा यकीन रखें.
बार-बार अपनी बात को ना बदले इसलिए पहले ही सोच समझकर बोलें इससे दूसरा शख्स बहुत मुतासिर होता है.और आपकी इज़्ज़त भी करता है.
हमेशा कुछ नया सीखे:
आपको हमेशा communication skills को अपडेट रखना चाहिए ऐसा करने का सबसे आसान तरीका यह है कि आप अपने इल्म में इज़ाफा करें.
इल्म में इज़ाफा के लिए आप tv मैगज़ीन और अखबार पढ़ सकते हैं…लेकिन आजकल के दौर में किसी के पास इतना वक्त कहा कि वह अख़बार, newspaper,पढ़ सकें.तो यह काम आप मोबाइल पर भी कर सकते हैं.
सोशल मीडिया से आप बहुत ज्यादा फायदा ले सकते हैं…अगर यह काम आप फेसबुक पर ढूंढोगे तो कुछ फायदा नहीं होगा.
अगर यह काम आप ट्विटर पर ऐसे लोगों को फॉलो करते हैं, जो आपको हेल्प करता है तो यह सब आप गाड़ी में सफर करते हुए भी कर सकते हैं.
ऐसा करने का फायदा यह होगा कि आपके इल्म में इजाफा होगा और इस बात से भी आगाह रहेंगे इस दुनिया में क्या चल रहा है.
जीस किसी के साथ किसी भी सूरतेहाल में बात भी कर सकते हैं.
Twitter पर जो top trends होते हैं…उसको दिन में एक बार ज़रूर देख लिया करें इससे आपके इल्म में इज़ाफा होगा.
बात करने का तरीका:
communication skills मे बात करने का तरीका बहुत अहम होता है.
आप के बात करने के अंदाज से सामने वाला शख्स आपसे मुतासिर हो सकता है.
हमेशा यह याद रखें जब सामने वाला शख्स बात कर रहा हो तो उसकी बात मुकम्मल सुनकर ही बोले.
ज्यादा बात करने के बजाय सीधा-सीधा जो आप चाहते हैं वह बोले ऐसा करने से आप ज़ेहनी तौर पर भी ठीक रहते हैं.और दूसरे शख्स को भी आप मुत्मइन कर पाएंगे.
बात करते वक्त अपने लहज़े में बेहतरी लाए, इतना आहिस्ता भी ना बोले कि दूसरा आपको सुन न पाए.
और इतना तेज भी ना बोले कि सामने वाला आपकी बात से अलाहीदा महसूस करें.
किसी भी इंसान चाहे वह आपका अपना हो या अजनबी उसके साथ नरमी से बात करें,इससे आपकी शख्सियत दूसरे के लिए मुतासिरकुन साबित होगी.
दिखावा ना करें:
आपने अक्सर देखा होगा कि जिन लोगों की communication skills बहुत अच्छी भी हो.
फिर भी वह छोटी-छोटी बातों पर ज्यादा शोरगुल करते हैं.वह अपने आप को दूसरों से बेहतर महसूस करवाने की कोशिश करते हैं.
हमेशा याद रखें अगर आपको किसी बात का इल्म भी हो फिर भी दूसरों की बात ध्यान से सुने.
ऐसा लगे कि यह बात आप पहली बार सुन रहे हैं.
ऐसा करने से हो सकता है कि आपके इल्म में चंद अल्फाज़ का इज़ाफा हो जाए, और दूसरा शख्स भी अपनी बात को मुकम्मल कर लें.
अगर बार-बार उसकी बात को काट देते हैं, मुझे पता है!
इस बात का पहले से ही
तो उससे दूसरे के दिल में आपके लिए नफरत पैदा होगी..और इससे आपकी शख्सियत पर बुरा असर पड़ेगा.
एक अच्छी गुफतुगु के लिए जो सबसे अहम बात समझी जाती है,वह है body language.
जब आप किसी से बात कर रहे हो तो हमेशा body language पर नजर रखें.
और जो आपको सुन रहा है उस पर ध्यान रखें.
जिससे पता चल जाता है कि सामने वाला आपके बारे में क्या सोच रहा है, और आपकी बात सही से सुन रहा है या नहीं.
बॉडी लैंग्वेज से 80 % यह पता चल जाता है कि इस इंसान से कैसे बात करनी चाहिए.
और आप जब भी बात करें तो अपने सर को इधर-उधर ना घुमाएं बल्कि सामने वाले की तरफ देख कर बात करें.
point to point बात करें:
किसी भी इंसान से आप जब बात करते हैं जिस भी चीज के मुताल्लिक आपने बात करनी है.उस पर पॉइंट टू पॉइंट बात करें.
ऐसा करने से आपके लिए और दूसरे के लिए आसानी होगी और ऐसा करने से आप कम्युनिकेशन स्किल्स में बहुत ज्यादा इजाफा कर सकते हैं.
यह लेख अच्छा लगा तो लाइक शेयर कमेंट जरुर करें और अपने दोस्तों के साथ भी शेयर करें.
thank you.
यह भी पढ़ें:मुश्किल और परेशानी को खत्म करने का तरीका.|The way to eliminate difficulties and troubles

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here