दिल में बस जाने वाली बातों का गुलदस्ता (खूबसूरत पंक्तियाँ.) In Hindi.

145
3

दिल में बस जाने वाली बातों का गुलदस्ता ,खूबसूरत पंक्तियाँ.

“सारी उम्र किसी के साथ कितना ही अच्छा कर लो, लेकिन किसी मजबूरी से एक बार साथ ना दें सको, तो सारी अच्छाइयां कुएं में गिर जाती है”
“जिंदगी के सफर में उन लोगों पर ध्यान ना दें, जो आपके रास्ते में खड़े थे, बल्कि उन लोगों का सोचे जो हर मुकाम पर आपके साथ खड़े थे”
“हर आदमी अपना दरख़्त अलग अलग लगाना चाहता है, यही वजह है कि इंसानियत का बाग तैयार नहीं होता”
“फासले दिलों में होते हैं, कभी एक ही घर में रहते हुए लोग अजनबी बन जाते हैं, और कभी हजारों मील का फासला भी कुछ नहीं होता”
“नाराजगी गिले-शिकवे वहां अच्छे लगते हैं, जहां अपनायत हो, जहां किसी को मान न रखना आता हो, वहां खामोशी से मुस्कुरा देना ही अच्छा है”
“कभी कभी इंसान गलत नहीं होता, उसके पास सवालों के जवाब खत्म हो जाते हैं”दिल में बस जाने वाली बातों का गुलदस्ता (खूबसूरत पंक्तियाँ.) In Hindi.
“मैंने सीखा है रियाज़ी के उसूलों से,
के जो नामुमकिन हो उसे फर्ज कर लिया जाए”
“जब जिंदगी नाच नाचाती है तो रिश्तेदार डीजे बन जाते हैं”
“मुझे लोगों को पढ़ना नहीं आता, मगर उन पर एतबार कर के सबक जरूर मिल जाता है”
“झूठी शान के परिंदे ही फर फराते हैं,
खानदानी बाजों की उड़ान में कभी आवाज़ नहीं होती”
“हम आजीब तबीयत के लोग हैं,
सीधी बात करो तो बदतमीज,
खुश इखलाकी से पेस हो तो डिप्लोमेट,
अगर किसी से एखतलाफ करो तो बेअदब,
और अगर लिहाज करो तो मुनाफिक़”दिल में बस जाने वाली बातों का गुलदस्ता (खूबसूरत पंक्तियाँ.) In Hindi.
“इंसान के अंदर दो कमजोरियां बहुत आम है, भुलाने की काबिल बातों को याद रखना,
और याद रखने के काबिल बातों को भुला देना”
“दुनिया में वैसे तो सब भाई होते हैं, मगर साथ रहने से पता लग जाता है के इनमें से कितने कसाई हैं”
“खुद पर यकीन होना चाहिए,
सहारे ही तो बेसहारा करते हैं”
“बर्बाद करने में भी अक्सर उन्हीं का हाथ होता है, जो गले लगा कर कहते हैं हमेशा खुश रहो”
तन्हा होना यह नहीं होता कि आपके पास कोई नहीं है, तन्हा होना दरअसल यह होता है के सब आपके पास है मगर आपका कोई नहीं है”
“अपने चेहरे पर कोई दर्द ना लिखो, क्योंकि वक्त के पास ना आंखें हैं, और ना एहसास और ना दिल”
“खामोशियां कभी बेवजह नहीं होती, कुछ दर्द ऐसे भी होते हैं जो आवाज छीन लेते हैं”दिल में बस जाने वाली बातों का गुलदस्ता (खूबसूरत पंक्तियाँ.) In Hindi.
“कभी कभी ना दिलासे अच्छे लगते हैं, और ना ही दिलासा देने वाले, बड़ी दूखदायक होती है यह हमदरदियां”
“जब इंसान अपनी गलतियों का वकील और दूसरों की गलतियों का जज बन जाए, तो फिर फैसले में फासले हो जाते हैं”
“भरोसा वह नाजुक शीशा है, जो एक मर्तबा टूट जाए तो फिर कभी नहीं जुड़ता, और अगर जुड़ भी जाए तो चेहरे दो नजर आते हैं”
“जो लोग दूसरों के दिलों को कांटों से जख्मी करते हैं, उनके अपने अंदर किकर उगे होते हैं, वो चाहे ना चाहे उनको कांटा ही बनना होता है,
वो कभी फूल नहीं बन सकते”
“काश इंसान भी नोट की तरह होते, के बंदा रोशनी में करके देख लेता के अंदर से कैसे हैं”
“कभी कभी आंसू किसी अनजानी सी तकलीफ से बहते रहते हैं, और इंसान चाह कर भी इन आंसुओं की वजह नहीं ढूंढ पाता,
ऐसी गुमनाम तकलीफें इतनी सदीद होती है के पहरो रो कर भी लगता है कि वो दुःख अभी भी कहीं अंदर सांस में अटका हुआ है”
“प्यार कोई चीज नहीं, जिसे महेनत से हांसिल किया जाए, प्यार कोई मुकद्दर नहीं, जिसे तक़दीर पे छोड़ा जाए, प्यार एक यकीन है भरोसा है,  लेकिन यह इतना आसान नहीं, की किसीसे भी किया जाए”
“मुश्किल राहे भी आसान हो जाती है, हर राह पर पहेचान हो जाती है, जो लोग मुस्कुरा के करते है सामना, किस्मत उनकी गुलाम हो जाती है”
यह भी पढ़ें:-Ek badshah aur three wazir एक बादशाह और तीन वजीर का दिलचस्प वाकया.

3 COMMENTS

  1. Hi! I’ve been reading your web site for a while now and finally got the bravery to go ahead
    and give you a shout out from Houston Texas!
    Just wanted to tell you keep up the excellent work!

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here