Home Health

70 नेकियां पाने का आसान तरीक़ा|खाना|पानी| 70 Easy Way to Get Goodies in hindi

0

70 नेकियां पाने का आसान तरीक़ा|खाना|पानी| 70 Easy Way to Get Goodies in hindi

फ़रमाने मुस़्तफ़ा ﷺपानी
जो बंदा बिस्मिल्लाह पढ़ कर खाना खाता है,तो अल्लाह उस बंदे से खुश होकर उसके गुनाह माफ़ कर देता है.
फ़रमाने ह़ज़रत अली رضی اللہ تعالیٰ عنہ
जो बिस्मिल्लाह पढ़ कर खाना खाता है, या पानी पीता है, तो उस गेज़ा में जो बीमारियां छुपी हुई होती है,तो अल्लाह अपने नाम की बरकत से उस बीमारियों को ख़त्म कर देता है.
बीबी फातिमा ज़हरा रज़ि अल्लाह ताअला अनहा ने फरमाया.जो बिस्मिल्लाह कह कर खाना खाता है,तो अल्लाह उसके रिज़्क में बरकत पैदा करता है.
और उसकी आने वाली जिंदगी खुशियों से नवाज़ देता है.
फ़रमाने इमाम ह़सन رضی اللہ تعالیٰ عنہ
जो बिस्मिल्लाह कह के खाना खाते हैं, तो अल्लाह उसको 70 नेकियों का सवाब आता करता है.
फ़रमाने इमाम ह़ुसैन رضی اللہ تعالیٰ عنہ
जो बिस्मिल्लाह करके खाना खाता है तो अल्लाह उस बंदे से मुखातिब होकर फ़रमाता है, ऐ मेरे बंदे मांग क्या मांगता है.
इमाम अली रज़ी अल्लाह ताआला अन्हु की खिदमत में एक शख्स आया और कहने लगा, या अली मैं बीमारियों से बचना चाहता हूं क्या करूं.
तो इमाम अली इब्ने अबी तालिब रज़ी अल्लाह ताअला अन्हु ने फ़रमाया,ऐ शख्स तुम खाने से पहले थोड़ा सा नमक चखो फिर खाना खाओ,
और जब खाना खत्म कर दो तो उसके बाद थोड़ा सा नमक चख लो.
अल्लाह तुम्हें लातादाद बीमारियों से अपनी पनाह में रखेगा, और घर से जब बाहर निकलो तो थोड़ा सा नमक चख के बाहर निकलो.
अल्लाह तुम्हें ह़सद और नज़र से अपनी पनाह में रखेगा.बेशक अल्लाह अपने बंदों पर रह़म फ़रमाने वाला है.
एक मर्तबा ह़ज़रत सलमान फारसी बीमार हुए, तो उनकी दुआ के लिए ह़ज़रत इमाम अली इब्ने अबी तालिब रज़ि अल्लाह ताअला अन्हु, अपने मुबारक क़दम लिए सलमान फारसी के पास गए, और पानी मंगवाया, और पानी पर चंद कलीमात पढ़ें और सलमान से कहा ये पीलो,
जैसे ही सलमान फारसी ने पानी पिए तो अल्लाह के फज़लों करम से शिफा पा ली.
और अबूज़र गफ्फारी ने पूछा या अली मैंने हमेशा देखा है के आप जब भी कोई विर्द करते हैं तो पानी पर दम कर के देते हैं.” जब की ज़मीन पर और भी आंसर है, आपने कभी उनका इस्तेमाल नहीं किया.
यही बात मैंने रसूल अल्लाह ﷺ मे भी देखा है.70 नेकियां पाने का आसान तरीक़ा|खाना|पानी| 70 Easy Way to Get Goodies in hindi
तो ह़ज़रत इमाम अली इब्ने अबी तालिब रज़ि अल्लाह ताअला अन्ह ने फ़रमाया.
अल्लाह की इस ज़मीन पर हज़ारों मोजज़े है. उसमें से अज़ीम मोजज़े पानी है, जिस की लातादाद खुबीयां है.
और उसमें एक खूबी यह है, कि जब भी कोई इंसान पानी को अपने करीब लाता है,कोई विर्द पढ़ता है.
या कोई एहसास अपने आप पर तारी करता है.तो तमाम चीजें पानी अपने आप में समा लेता है. फिर जो भी इंसान उस पानी को पीना शुरू करता है.
तो वह तमाम एहससात और तमाम दुआएं, पीने वाले की वजूद में असर करती है.
इसीलिए हमेशा अल्लाह के नेक बंदे पानी को शिफ़ा के लिए इस्तेमाल करते हैं.
लाइक शेयर कमेंट जरूर करें.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here