Home HINDI QUOTES Interesting story of goats in hindi|बकरियों के दिलचस्प कहानी.

Interesting story of goats in hindi|बकरियों के दिलचस्प कहानी.

0

बकरियों के दिलचस्प कहानी.जो काम गुस्से से नहीं होता वो नरमी से हो जाता है.

इस भाग दौड़ की जिंदगी में पहले मै पहले मै की चक्कर में इंसान आपस में लड़ते रहते हैं, ऐसी हालत में हमें क्या करना चाहिए.आज इस लेख के जरिए समझते हैं.
एक नहर का पुल इस कदर तंग(short)था के एक साथ दो बकरियों का गुज़ारना नामुमकिन था. एक दिन एक बकरी उस पुल पर जा रही थी, जब पुल के बीच में पहुंचा तो उसको एक और बकरी मिली, पहली बकरी दूसरी बकरी से कहने लगी तुम वापिस चली जाओ “ताकि मैं पहले पुल को पार कर लूं, उसके बाद तुम चली जाना,”
दूसरी बकरी बोली वाह भाई वाह “मैं भला क्यों वापस चली जाऊं, तुम ही वापस क्यों नहीं चली जाती,और हां पहले मुझे गुज़र जाने दो,”
पहली बकरी ने अकड़ कर जवाब दिया तुम्हें वापस जाना पड़ेगा! क्योंकि मैं तुमसे ज़्यादा ताक़तवर हूं, दूसरी बकरी ने कहा ज़्यादा तो क्या तुम तो मेरे बराबर भी नहीं हो!
पहली बकरी को यह सुनकर गुस्सा आ गया झुनझुला कर बोली अच्छा इसका पता अभी लग जाएगा, यह कहकर उसने लड़ने के लिए अपने सिंघ नीचे झुका लीए और फिर दूसरी बकरी ने उसे रोकते हुए कहा ठहरो ठहरो!
देखो लड़ने से कोई फायदा नहीं अगर हम लड़ेंगे तो दोनों ही नहर में गिर कर डूब जाएंगे मेरी समझ में एक तरकीब आई है मैं पुल पर लेट जाती हूं, और तुम मेरे ऊपर से गुज़र जाओ,
यह कहकर दूसरी बकरी पुल पर लेट गई और पहली बकरी आहिस्ता आहिस्ता उसके ऊपर से गुज़र गई उसके बाद दूसरी बकरी भी आराम से पुल पार कर गई.
तो देखा आपने अगर यह बकरियां लड़ने लगती तो इनमें से किसी की भी जान नहीं बचती.
सच यह है कि जो काम गुस्से से नहीं होता वो नरमी से हो जाता है.

फ़रमाने मुस़्तफ़ा ﷺ
उम्मुल मोमिनीन ह़ज़रत आयशा सिद्दीक़ा रज़ि अल्लाहु ताअला अन्हा से इरशाद फरमाया!

जिस शख्स को नरमी से हिस्सा मिला उसे दुनिया और आखिरत की भलाई से हिस्सा मिला,
और जो शख्स नरमी से महरूम(Deprived) रहा वह दुनिया और आखिरत की भलाई से महरूम(Deprived)रहा.
तो दोस्तों यह लेख कैसा लगा, अगर अच्छा लगा तो लाइक कमेंट जरुर करें, और अपने दोस्तों के साथ शेयर भी करें.
यह भी पढ़ें:-लहरों से डरकर नौका पार नहीं होती,कोशिश करने वालों की कभी हार नहीं होती.