झूठ बोलना गुनाह की बुनियाद है|Lying is the foundation of guilt.in hindi.

211
0

झूठ बोलना गुनाह की बुनियाद है|Lying is the foundation of guilt.in hindi.

झुठ बोलना एक बहुत बड़ी गुनाह है .झुठ बोलने वालों से अल्लाह नाराज़ होता है.अल्लाह के प्यारे ह़बीब नाराज़ होते हैं.
जो इंसान एक बार झूठ बोलता है,तो उसे एक झूठ को छुपाने के लिए कई और झूठ बोलने पड़ते हैं. अहले बैत के नज़र में क्या इरशाद आइए पढ़ते हैं.
अल्लाह के रसूल ﷺ ने फरमाया.
झूठ बोलना गुनाह की बुनियाद है. अगर कोई इंसान झूठ बोलना छोड़ दे तो अल्लाह के करम से उससे सारे गुनाहों छूट जाएंगे.
in English.Lying is the foundation of guilt.If a person does not give up lying, then he will lose all the sins from Allah.
इमाम अली رضی اللہ تعالیٰ عنہ ने फ़रमाया.
जो इंसान झूठ बोलता है अल्लाह क़यामत के दिन ऐसे इंसानों के चेहरे काले करेगा.और रौज़े मैहसर पहचाने जाएंगे यह वह लोग है,जो अल्लाह की मख़लूक़ात से झूठ बोलते थे.
in English. The person who speaks lies, Allah will blacken the face of such people on the Day of Judgment.
And Rauze Meheshar will be identified, it is those people who used to lie in Allah’s vials.
बीबी फातमा जहरा رضی اللہ تعالیٰ عنہا ने फ़रमाया.
मोमिन कभी झूठ नहीं बोलता,और जो झूठा हो वह कभी मोमिन नहीं होता.
in English:Momin never speaks lies, and whoever is a liar is never a believer.
इमाम ह़सन ने फ़रमाया رضی اللہ تعالیٰ عنہ
अगर कोई शख्स दीनरात अल्लाह की इबादत करता है,और साथ-साथ वह झूठ भी बोले तो वह ये समझ ले उसकी इबादत अल्लाह के दरबार में क़ुबूल नहीं.
in English. If a person recites Allah Alone, and if he also speaks the lie, then understand that his worship is not in the court of Allah.
इमाम हुसैन ने फ़रमाया رضی اللہ تعالیٰ عنہ
मैंने अपने नाना ह़ज़रत मोह़म्मद मुस्तफ़ा ﷺसे सुना.
आप ने फरमाया रोज़े मैह़शर मै उसके सफाअत नहीं करूंगा जो इंसान झूठ बोलता है
इसे भी पढ़ें:सफाई सुबह करो जिस घर में बद्दुआ हो उस घर में बरकत नहीं होती in hindi.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here