Education

अपने मकसद को हमेशा याद रखना अगर सच में अपनी लाइफ को कोई मकाम देना चाहते हैं

अपने मकसद को हमेशा याद रखना अगर सच में अपनी लाइफ को कोई मकाम देना चाहते हैं

एक कड़वा सच यह भी है कि आप के जितने बड़े सपने हैं और अगर अपनी लाइफ को कोई मकाम देना चाहते हैं,तो अपने मकसद को हमेशा याद रखना होंगा, क्युकि उतने ही ज्यादा लोग आपको रोकने की कोशिश करेंगे. और चुने हुए रास्ते से भटकाने की कोशिश करेंगे.

अगर आप इन लोगों से बचना चाहते हैं, तो एक ही रास्ता है,आप अपने सपने छोड़ दीजिए,या आप उस रास्ते पर चलना ही छोड़ दीजिए जिसको आपने खुद के लिए चुना है.

लेकिन आप सच में कुछ बदलने के लिए मेहनत और कोशिश कर रहे हैं,

अगर आप सच में अपनी लाइफ को कोई मकाम देना चाहते हैं।अपने मकसद को हमेशा याद रखना

अगर आपकी लाइफ में कोई ऐसी चीज है जीसे आपको करना बहुत जरूरी है। जिसके होने से आपके लाइफ में एक नई दिशा मिल सकती है। फिर तो आपको अपने आप से यह कहना होगा।

दुनिया के लोगों की परवाह छोड़ो और अपने मन्ज़ील की तरफ देखों और आगे बढ़ो.

आपको यह समझने की कोशिश करना होगा,कि आप जितना आगे बढ़ेंने की कोशिश करेंगे यह लोग आपको उतना ही ज्यादा पीछे धकेलने की कोशिश करेंगे।

अब यह आप पर डिपेंड करता है कि आप कब तक अपने सोच को लेकर अपने सपनों को लेकर खड़े रहते हैं।

जहां आप थोड़े से कमजोर पड़ेंगे यह लोग आप को उठाकर नीचे पटक देंगे, इसलिए आपको लड़ना होगा। आपको अपनी सोच की मजबूत करना होगा.

आपको अपनी (abilities) क्षमताओं को बढ़ाना होगा, आपको अपने मकसद को हमेशा याद रखना होगा।अपने मकसद को हमेशा याद रखना

अपना हर कदम अपने मन्ज़ील की तरफ बढ़ाना होगा। इस रास्ते में बहुत से लोग आपके दुश्मन बन सकते हैं। लोग आप को पागल कह सकते हैं.
लोग आपको सनकी कह सकते हैं। जब लोग आपको सनकी कहने लग जाए तो समझ जाना कि आप सही रास्ते पर हैं.अपने मकसद को हमेशा याद रखना

क्योंकि इतिहास ऐसे लोगों से भरा पड़ा है। जिन्होंने अपने पागलपन में और सनक में इस दुनिया की भाग बदल डाला। लाईट, टेलीफोन, एरोप्लेन.

यहां तक कि इंसान चांद तक पहुंचा तो इसी जुनून की वजह से इसी पागलपन की वजह से पहुंचा।

महात्मा गांधी का यह बात हमेशा याद रखना, लोग पहले आपको नज़र अंदाज करेंगे, फिर लोग आप पर हंसेंगे, फिर आप का विरोध करेंगे जब अंत में आप जीत जाओगे, तो यही लोग आपके पीछे पीछे चलना शुरू कर देंगे।

इसीलिए दोस्तों अपने सपनों को हकीकत में बदलने काे सफर आज से ही शुरु कर दो, इस जमाने की परवाह छोड़ो और अपने कदम को आगे बढ़ने दो। हासिल कर लो अपने मन्ज़ीलों को, दुनिया अपने आप आपके पैरों के निशान देखकर पीछे-पीछे चला आएगी।

दोस्तों यह लेख अच्छा लगा तो लाइक और शेयर कमेंट जरुर करें?

इसे भी पढ़ें: एक गैर मुस्लिम ने एक बुज़ुर्ग से तीन सवाल पूछे? जिनका जवाब सुनकर वह मुसलमान हो गया.

Related Articles

4 Comments

  1. Piece of writing writing is also a excitement, if you be familiar with after that
    you can write otherwise it is complex to write.

  2. Wonderful goods from you, man. I’ve take into accout your stuff prior to and you are simply extremely wonderful.
    I actually like what you’ve got here, really like what
    you’re stating and the way in which wherein you say it.
    You make it enjoyable and you continue to care for
    to keep it smart. I can not wait to read much more from you.
    This is really a tremendous website.

  3. I’ve been browsing online more than three hours today,
    yet I never found any interesting article like yours. It’s pretty worth enough
    for me. In my view, if all webmasters and bloggers made good content as you did, the
    internet will be much more useful than ever before.
    What’s up, I log on to your new stuff regularly.

    Your writing style is awesome, keep up the good work!
    It is perfect time to make a few plans for the longer term and it’s time
    to be happy. I have read this submit and if I
    could I desire to recommend you few fascinating issues or suggestions.
    Maybe you could write subsequent articles relating to this article.
    I wish to learn even more things about it! http://foxnews.co.uk

Back to top button
Close
Close