अल्लाह को तकब्बुर पसंद नहीं.जो अपने सर को झुकाएगा वही जन्नत में दाखिल

11

अल्लाह को तकब्बुर पसंद नहीं.जो अपने सर को झुकाएगा वही जन्नत में दाखिल

जन्नत एक मर्तबा ह़ज़रत कलंदर शाहबाज़ के खिदमत में काफी उनके चाहने वाले बैठे थे.किसी ने पूछा ऐ अल्लाह के वली कलंदर शाहबाज़ आप बोदले बहार को क्युं इतना प्यार करते हैं?
हम भी आपसे प्यार करते हैं,हम भी आपसे इश्क़ करते हैं,हम भी आपकी खिदमत करते हैं.लेकिन हर पल बोदला-बोदला क्यों करते रहते हैं.
तो ह़ज़रत कलंदर शाहबाज़ ने मुस्कुराकर कहा क्युंकि बोदला बाईल्म है बोदला वह जानता है जो तुम नहीं जानते.
लोगों ने कहा ऐसा क्या है जो हम नहीं जानते और बोदला जानता है?
फिर ह़ज़रत कलंदर शाहबाज़ ने कहा मैं एक सवाल पूछता हूं अगर उसका सही जवाब दे दिया तो मैं समझूंगा कि तुम बेहतर हो बोदला कुछ नहीं जानता लेकिन अगर बोदले ने जवाब दिया तो समझ जाना बोदला बेहतर है.
कलंदर शाहबाज़ की उस बात को सब ने तसलीम किया बोदला बैठा था सब बैठे थे कलंदर शाहबाज़ ने कहा मुझे कोई यह बताए कि जन्नत का दरवाज़ा कैसा होगा?अल्लाह को तकब्बुर पसंद नहीं.जो अपने सर को झुकाएगा वही जन्नत में दाखिल
किसी ने कहा ऐ अल्लाह के वली सोने का होगा, किसी ने कहा बहुत बड़ा होगा,किसी ने कहा याकुत का होगा किसी ने कहा मरयान का होगा, किसी ने कहा इतना बड़ा होगा के नज़र में समा नहीं पाएगा.
फिर बोदले बहार ने कहा ऐ अल्लाह के वली अगर इजाज़त हो तो मैं अर्ज़ करूं सब लोग खामोश हो गए फिर अल्लाह के उस आशिक़ के आशिक़ ने बोदले बहार ने फरमाया ऐ अल्लाह के वली कलंदर शाहबाज़.
जन्नत का दरवाज़ा छोटा होगा सब हंसने लगे.और कहने लगे यह है बोदला जीनकी आप तारीफ फ़रमाते थे ऐ कलंदर शाहबाज़ ये कहता है जन्नत का दरवाज़ा छोटा होगा.
देखो जन्नत जीस में इतने लोग समाएंगे इतने लोग जाएंगे अल्लाह का ज़ीक्र करने वाले अल्लाह के चाहने वाले उसका दरवाज़ा छोटा होगा.
वह कैसे?बोदले बहार ने कहा वो इस लिए क्यूंकि अल्लाह को तकब्बुर पसंद नहीं.जो अपने सर को झुकाएगा वही जन्नत में दाखिल होगा.और जो अकड़ा रहेगा वह बाहर ही रहेगा.
जब यह कहना था तो सब कहने लगे वाकई ऐ अल्लाह के चाहने वाले ह़ज़रत कलंदर शाहबाज़ बोदला वह जानता जो हम नहीं जानते.
यह लेख अच्छा लगा तो लाइक शेयर कमेंट जरुर करें.

11 COMMENTS

  1. I really like what you guys tend to be up too. This type of clever work and reporting!
    Keep up the awesome works guys I’ve you guys to my personal blogroll.

  2. Basically too follow up on the up-date of this
    subject matter on your blog and wish to lett you know just hhow much I liked the
    time yoou took too create this useful post. In the
    post, you really spoke on how to actually handle this concern with aall convenience.

    It would be my personjal peasure to cillect some more strategies from your blog and come as much ass offer people what I lerned from you.
    Many thanks for your usual wonderful effort.

  3. Hello superb website! Does running a blog similar to this requiee a
    massive amount work? I have absolutely no knowledge of coding however I was hoping to start my own blog soon. Anyways, if you have any recommendations or
    tips for new blog owwners please share. I know this is off
    subject hoever I simply had to ask. Appreciate it!

  4. I�m amazed, I must say. Rarely do I encounter a blog that�s both educative and
    interesting, and let me tell you, you’vehit the nail on the head.
    The issue is something which too ffew people are speaking intelligently about.

    I am very happy I came across thius in my search for something relating to
    this.

  5. Admiring the dedication you put into your site and detailed information you provide.
    It’s awesome to coje across a blog every once in a
    while that isn’t the same old rehashed information. Excellent read!
    I’ve saved yoyr site and I’m adding yur RSS feeds too my Google account.