Quotes

इमाम अली ने कहा मुनाफीक़त ये नहीं के जो तुम्हें बुरा लगे उसे फौरन बुरा कह दो

इमाम अली ने कहा मुनाफीक़त ये नहीं के जो तुम्हें बुरा लगे उसे फौरन बुरा कह दो

ह़ज़रत इमाम अली रज़ि अल्लाहु ताअला अन्हु
के खीदमत में एक शख्स आया और अर्ज़ करने लगा.या अली मुझ से मुनाफीक़त बर्दाश्त नहीं होता,मैं सबसे सच कहता हूं,लेकिन यह ज़माने वाले मेरे सच को क़ुबूल नहीं करते,और मेरे दुश्मन बन जाते हैं.तो मैं क्या करूं.
तो इमाम आली मकाम रज़ि अल्लाहु ताअला अन्हु ने फरमाया ऐ शख्स जहां‌ सच बोलने से तुम्हारे दुश्मन होते हो वहां खामोश रहके अपने दोस्त बना लो…
क्योंकि पानी कितना भी गंदा हो लेकिन आग बुझाने के लिए काफी होता है.लेकिन दोस्त कितने भी बुरे हो वह जिंदगी में कभी न कभी काम जरूर आते हैं.
अपनी शख्सियत को इतना बावाकार बनाओ जब जिंदा रहो तो लोग मिलने को मुस्ताक रहे जब मर जाओ तो लोग तुम्हें अच्छी अल्फाजों के साथ याद करें.
उस शख्स ने कहा या अली तो क्या यह मुनाफीक़त नहीं होगी कोई मुझे बुरा लगे और मैं उसे बुरा ना कहूं.
तो इमाम अली ने कहा मुनाफीक़त ये नहीं के जो तुम्हें बुरा लगे उसे फौरन बुरा कह दो बलके मुनाफीक़त यह है जो तुम्हें बुरा लगे तुम दिल में उसका मैल रखो.
और फिर उस से दुश्मनी करके उसे नुकसान पहुंचाने की कोशिश करो.अल्लाह की किसी मखलुक़ को नुकसान पहुंचाने को मुनाफीक़त कहते हैं.
बाकी तुम्हारे सामने अगर कोई गलत कर रहा है तुम उसकी गलती को देख कर बर्दाश्त कर रहे हो सबर कर रहे हो यह मुनाफीक़त नहीं बल्के सुजाअत है.
बुरे का अंजाम खुद बुरा होगा अच्छे इंसान की अच्छाई का सिला अल्लाह आता करेगा..
यह लेख अच्छा लगा तो लाइक शेयर कमेंट जरुर करें
इसे भी पढ़ें: कोई ऐसा अमल या कोई ऐसी दुआ बताएं,जिससे मेरी मुश्किलात आसान हो?
इसे भी पढ़ें: क्या टीपू सुलतान एक योद्धा थे जाने पूरी बातें

Related Articles

15 Comments

  1. I was recommended this web site by my cousin. I am not sure
    whether this post is written by him as no one else know such detailed about my problem.

    You are incredible! Thanks!

  2. You have made some really good points there. I checked on the web for more information about the issue and found most people will
    go along with your views on this website.

  3. It’s remarkable to go to see this web page and reading the views of all colleagues on the topic of this piece of writing, while I am also keen of
    getting experience.

  4. It is the best time to make some plans for the future and it is time to be happy.
    I’ve read this post and if I could I desire to suggest you few interesting things or advice.
    Maybe you could write next articles referring to this article.

    I desire to read even more things about it!

  5. No matter if some one searches for his essential thing, so he/she desires to
    be available that in detail, so that thing is maintained
    over here.

  6. Very good blog! Do you have any hints for aspiring writers?
    I’m hoping to start my own site soon but I’m a little lost on everything.
    Would you suggest starting with a free platform like WordPress
    or go for a paid option? There are so many choices out there that I’m completely confused ..
    Any tips? Many thanks!

  7. I will immediately grasp your rss as I can not in finding your email subscription link or newsletter service.
    Do you have any? Kindly allow me recognize so that I may just
    subscribe. Thanks.

  8. I don’t even know how I ended up here, but I thought this post
    was great. I don’t know who you are but definitely you’re going to a famous blogger if you are
    not already 😉 Cheers!

  9. I’m not sure exactly why but this web site is loading extremely slow for me.
    Is anyone else having this problem or is it a problem on my end?
    I’ll check back later and see if the problem still
    exists.

  10. Hey! Do you use Twitter? I’d like to follow you if that would be okay.
    I’m undoubtedly enjoying your blog and look forward to new posts.

Back to top button